Krishna Ki Ansuni Kahani: कृष्ण मथुरा आने को राजी

Krishna Ki Ansuni Kahani: Krishna Mathura Aane ko Raaji 
कृष्ण की अनसुनी कहानी:  कृष्ण मथुरा आने को राजी   

Aagyakari Akroor ki Bhakti, Krishna Mathura Aane ko raaji, Krishna Ki Ansuni Kahani,krishn, krishna,mythology kahani, Krishna Ki Ansuni story, Ansuni hindi story krishna ki, krishna bhagwan ki ansuni kahani,
Krishna Ki Ansuni Kahani


आज्ञाकारी अक्रूर की भक्ति | Aagyakari Akroor ki Bhakti

कृष्ण के नेक कर्मों के बारे में कहानियां दूर-दूर तक फैली हुई थी।


लोगो की बात सुनकर कंस को विश्वास हो गया कि कृष्ण ही देवकी का आठवीं संतान हैं, जो उसका वध करेगा।


वह कृष्ण को मारना चाहता था।


एक दिन नरेंद्र मुनि कंस के पास आए और उन्होंने कृष्ण और बलराम के रहने के जगह का खुलासा किया। कंस ने कृष्ण को मथुरा बुलाने की योजना सोची।


कंस ने अपने मंत्री अक्रूर को बुलाया, और उसे एक दूत के रूप में कृष्ण को मथुरा में एक पवित्र यज्ञ में आमंत्रित करने के लिए भेजा।


दुर्भाग्य से कंस को पता नहीं था कि अक्रूर कृष्ण का बहुत बड़ा भक्त था।


जब अक्रूर गोकुल पहुंचा और कृष्ण को देखा, तो वह खुशी से रो पड़ा और भगवान कृष्ण के चरणों में गिर गया।


अक्रूर रोते-रोते, अपने राज्य के राजा कंस की क्रूर योजना के बारे में कृष्ण को बताई।


कंस की मूर्खता पर कृष्ण हँसे और मथुरा आने का फैसला किया।


✒️✒️✒️✒️✒️

.....

..... Krishna Ki Ansuni Kahani [ Ends Here ] .....

Comments